Iron Women

मनक ने कहा कि ‘एक लड़की होने के नाते शुरुआत में काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा था लेकिन फैमिली और फ्रेंड्स के सपोर्ट से उन्होंने ये मुकाम हासिल किया है’! साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि ‘बहुत से लोगों ने मुझे वेटलिफ्टिंग में करियर बनाने के लिए मना भी किया, लेकिन मैंने उनकी बातों पर ध्यान नहीं दिया’!

और अपने जिम में वो हर महीने करीब 300 लड़के-लड़कियों को ट्रेन करती हैं! मनक बताती हैं कि ‘शुरुआत में जब लड़के मेरे जिम में आते थे तो वो आश्चर्यचकित होकर बोलते थे कि ‘एक लड़की वो भी जिम ट्रेनर’! उनको मेरे ऊपर विश्वास नहीं होता था, उस टाइम अपनी काबिलियत को साबित करना मेरे लिए बेहद मुश्किल था. लेकिन मैं कभी हताश नहीं हुई! जब एक आदमी लड़की को जिम ट्रेनिंग दे सकता है तो एक लड़की आदमी को क्यों नहीं’?

Pin It

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *